मुख्यमंत्री ने बड़सर विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए

हमीरपुर

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने हमीरपुर जिले के अपने एक दिवसीय दौरे के दौरान बड़सर विधानसभा क्षेत्र के बिझड़ी में लगभग 265 करोड़ रुपये की 21 विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किये।

मुख्यमंत्री ने बिझड़ी में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान राज्य सरकार का चार वर्ष का कार्यकाल कोविड महामारी के कारण लगभग दो वर्ष प्रतिकूल रूप से प्रभावित होने के बावजूद उपलब्धियों भरा रहा है। उन्होंने कहा कि यह सब राज्य की लोगों के समर्थन और केंद्रीय नेतृत्व के अपार स्नेह के कारण संभव हुआ है। उन्होंने कहा कि विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान देश में सफल रहा और इसका श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश भी टीकाकरण अभियान में चैम्पियन और अब प्रदेश 15 से 18 वर्ष की आयु वर्ग के युवाओं के टीकाकरण में अग्रणी राज्य बन कर उभरा है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि बजट में सभी के लिए बिना आय सीमा वृद्धावस्था पेंशन की आयु सीमा को घटाकर 60 वर्ष करने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा कि 60 से 65 वर्ष की आयु वर्ग की महिलाओं को भी बिना किसी आय सीमा के वृद्धावस्था पेंशन प्राप्त होगी। उन्होंने कहा कि अब 7.50 लाख लाभार्थियों को वृद्धावस्था पेंशन योजनाओं का लाभ मिलेगा, जिस पर 1,300 करोड़ व्यय किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि 60 यूनिट तक की बिजली खपत के लिए जीरो बिलिंग की जाएगी, जिससे लगभग 4.50 लाख उपभोक्ता लाभान्वित होेंगे। उन्होंने कहा कि 61 से 125 यूनिट के बीच बिजली खपत करने वाले 7 लाख से अधिक उपभोक्ताओं को लाभ प्रदान करने के लिए भी एक रुपये प्रति यूनिट की रियायती दर पर सस्ती बिजली उपलब्ध करवाई जाएगी।

मुख्यमंत्री ने उनके द्वारा समर्पित की गई विकासात्मक परियोजनाओं के लिए क्षेत्र के लोगों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि परियोजनाओं की लागत को कम रखने के लिए सभी को निर्धारित समयावधि में पूरा करने का प्रयास किया जाएगा।

जय राम ठाकुर ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भोटा को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत, बिझड़ी में आईटीआई खोलने, कलवाड़ा में 10 लाख रुपये की लागत से पुल, बडाग्रां में पशु औषधालय खोलने और पशु औषधालय ब्यार को पशु अस्पताल में स्तरोन्नत करने, भोटा और बिझड़ी में अस्थाई पुलिस चौकी को नियमित पुलिस चौकी बनाने की घोषणा की। उन्होंने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कुलहेड़ा में विज्ञान कक्षाओं तथा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय लोहारली में वाणिज्य कक्षाएं आरम्भ करने की भी घोषणा की। उन्होंने ग्राम सुलाहरी और उताप लजियाणा में आयुर्वेदिक औषधालय खोलने की भी घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने बिझड़ी में 2.47 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 10 बिस्तरों वाले आयुर्वेदिक अस्पताल भवन, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय जौरे अम्ब में 1.28 करोड़ रुपये विज्ञान प्रयोगशाला भवन, बड़सर-शाहतलाई मार्ग पर हरसौर के निकट सिरहाली खड्ड पर 6.33 करोड़ रुपये की लागत से बने पुल, बिझड़ी चलसाई चकलाड़ा अम्बोटा घंगोट सड़क पर 4.07 करोड़ रुपये की लागत से बने चोड नाला पुल, नाबार्ड के तहत बड़ाग्रां मुख्य सड़क से कलवल वाया थान चलीली माजरा तक 1.34 करोड़ रुपये की मेटलिंग और टारिंग कार्य, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय धनगोटा में 1.16 करोड़ रुपये लागत से निर्मित विज्ञान प्रयोगशाला भवन, बड़सर क्षेत्र में ब्यास नदी से विभिन्न उठाऊ पेयजल योजनाओं के संवर्द्धन के लिए 34.59 करोड़ रुपये, उठाऊ पेयजल योजना बानी बड़सर गरली फेज-1 व 2 के सवंर्द्धन के लिए 2.66 करोड़ रुपये, तहसील बड़सर में उठाऊ पेयजल योजना बानी गरली की वितरण प्रणाली में सुधार के लिए, बड़सर क्षेत्र के लिए हर घर नल से जल योजना के तहत उठाऊ पेयजल योजना के संवर्द्धन के लिए 14.11 करोड़ रुपये, हर घर नल से जल योजना के तहत उठाऊ पेयजल योजना भेबर सहेली के लिए 1.16 करोड़ रुपये और उठाऊ पेयजल योजना अम्बेरी टिप्पर, दांदरू की वितरण प्रणाली में सुधार के लिए 1.37 रुपये के उद्घाटन किये।

मुख्यमंत्री ने बड़ा खलोट सुदर बटालौ जौरे घाट मार्ग पर सुक्कर खड्ड पर 6.88 करोड़ रुपये की लागत से पुल, सिविल अस्पताल बड़सर में पीएसए ऑक्सीजन व मैनिफोल्ड सिस्टम के लिए 46 लाख रुपये, भेहड़ सहेली, हारमा, बानी बड़सर, गरली के लिए 8.50 करोड़ रुपये की उठाऊ पेयजल योजना, हर घर नल से जल योजना के अन्तर्गत बनी बड़सर गरली जोन-2 के तहत घरेलू कनेक्शन प्रदान करने के लिए 3.09 करोड़ रुपये, इसी योजना के अन्तर्गत बानी बड़सर गरली जोन-1 के तहत घरेलू नल कनेक्शन प्रदान करने के लिए 6.88 करोड़ रुपये तथा उठाऊ पेयजल योजना उटप सरवीं, घल्लियां, सेर बलौनी धनेड़ चरण-1 के लिए 9.86 करोड़ रुपये तथा बड़सर क्षेत्र में ब्यास नदी के किनारे विभिन्न उठाऊ पेयेजल योजनाओं के संवर्धन के लिए 137.57 करोड़ रुपये की योजनाओं के शिलान्यास किए।

मुख्यमंत्री ने दियोटसिद्ध में बाबा बालकनाथ मंदिर में पूजा अर्चना की तथा मंदिर में 10.34 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित लंगर भवन का उद्घाटन किया।

उन्होंने दियोटसिद्ध मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए 10.87 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित स्वर्णिम यात्री निवास नम्बर एक और 5.08 करोड़ रुपये की निर्मित होने वाले स्वर्णिम यात्री निवास (नम्बर 2) की आधारशिला रखी।

केन्‍द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने करोड़ों रुपये की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा राज्य के लिए करोड़ों रुपये की विकास परियोजनाओं को मंजूरी दी गई है, जिसमें करोड़ों रुपये की पेयजल परियोजनाएं शामिल हैं। उन्होंने कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रदान किए गए मजबूत नेतृत्व के कारण सम्भव हुआ कि भारत गुरू के रूप में उभरने की ओर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि ऑपरेशन गंगा शुरू करके देश के 21,000 से अधिक लोगों को यूक्रेन से वापस लाया गया। उन्होंने कहा कि ऊना-हमीरपुर रेलवे लिंक का भी सर्वेक्षण किया गया है, जिसका 75 प्रतिशत खर्च केंद्र सरकार वहन करेगी।

पूर्व विधायक एवं जिला भाजपा अध्यक्ष बलदेव शर्मा ने कहा कि राज्य ने पिछले लगभग चार वर्षों में कोरोना महामारी के बावजूद अभूतपूर्व विकास किया है। उन्होंने हाल ही में मुख्यमंत्री द्वारा पेश राज्य के बजट में समाज के हर वर्ग का कल्याण सुनिश्चित करने के लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री को क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों से भी अवगत कराया। उन्होंने हाल ही में मुख्यमंत्री द्वारा पेश किए गए विकास और कल्याणकारी बजट की भी सराहना की।

उप मुख्य सचेतक कमलेश कुमारी, पूर्व विधायक राम रतन शर्मा, एचआरटीसी के उपाध्यक्ष विजय अग्निहोत्री, मंडल भाजपा अध्यक्ष बड़सर कुलदीप ठाकुर, राकेश बबली, भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी विनोद कुमार, राज्य संयोजक कौशल विकास निगम नवीन शर्मा, उपायुक्त देबश्वेता बनिक इस अवसर पर मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.