महिलाओं के संवैधानिक अधिकार पर उमंग का वेबिनार 6 को

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट की एडवोकेट एवं सामाजिक कार्यकर्ता शीतल शर्मा व्यास 6 मार्च को उमंग फाउंडेशन के वेबीनार में “महिलाओं के संवैधानिक अधिकार” विषय पर व्याख्यान देंगी। वह युवा प्रतिभागियों के प्रश्नों के उत्तर भी देंगी।

कार्यक्रम की संयोजक और हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में राजनीति विज्ञान में पीएचडी की दृष्टिबाधित छात्रा ने प्रतिभा ठाकुर ने बताया कि उमंग फाउंडेशन के मानवाधिकार जागरूकता अभियान के अंतर्गत यह 25 वां साप्ताहिक वेबीनार होगा। उन्होंने कहा कि एडवोकेट शीतल शर्मा व्यास हिमाचल प्रदेश बाल कल्याण परिषद की सदस्य और महिला एवं बाल विकास की भी सदस्य हैं। एक सफल एडवोकेट के साथ-साथ वे महिलाओं और बच्चों के अधिकारों पर लगातार समाज में कार्य भी कर रही हैं और कुशल वक्ता भी हैं।

प्रतिभा ठाकुर के अनुसार गूगल मीट पर लिंक https://meet.google.com/sei-rgnf-xtu के माध्यम से 6 मार्च को शाम 7 बजे वेबिनार  में शामिल हुआ जा सकता है। उन्होंने बताया कि पिछले 6 महीने से मानवाधिकारों पर हर रविवार को वेबिनारों की श्रंखला चल रही है। इसमें बच्चों, बुजुर्गों, दृष्टिबाधित व्यक्तियों, अन्य दिव्यांगजनों, ट्रांसजेंडर, कामकाजी महिलाओं, आदि से जुड़े विभिन्न विषयों पर अभी तक 24 कार्यक्रम हो चुके हैं। इनमें हिमाचल प्रदेश के अलावा अन्य राज्यों के युवा भी हिस्सा लेते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.