ऊंचे क्षेत्रों में बर्फबारी में एहतियात बरतें लोग

कुल्लू

उपायुक्त ने खराब मौसम के चलते जारी की एडवाईजरी
कुल्लू, 02 फरवरी । कुल्लू जिला में बारिश्- बर्फबारी और खराब चल रहे मौसम के चलते उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने एडवाईजरी जारी करते हुए स्थानीय लोगों तथा सैलानियों को एहतियात बरतने की अपील की है।मौसम विभाग द्वारा आगामी तीन-चार दिन तक मौसम के खराब बने रहने तथा बर्फबारी का अलर्ट जारी किया गया है।
उपायुक्त का कहना है कि स्थानीय लोग और सैलानी बर्फबारी के दौरान ऊंचाई वाले क्षेत्रों का रूख न करें और नदी-नालों से भी दूर रहें। ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हो रही लगातार बर्फबारी के कारण बाहरी राज्यों से लगातार सैलानियों की आमद बढ़ रही है, ऐसे में सैलानी ज्यादा रोमांच के चलते कई बार उन क्षेत्रों का भी रूख करते हैं जहां जान पर खतरा बना रहता है। ऐसे में सैलानी इस तरह जोखिम न उठाएं। उन्होंने स्थानीय लोगों से भी बारिश-बर्फबारी के बीच दैनिक कार्यों को निपटाने के लिए अनावश्यक जोखिम उठाने से बचने की अपील की है।
उपायुक्त ने पर्यटकों से भी आग्रह किया है कि वे ऊंचाई वाले अथवा बर्फबारी वाले क्षेत्रों में निजी वाहनों को लेकर न जाएं और साथ ही ट्रैकिंग रूटों पर भी जाने की कोशिश न करें। उन्होंने पर्यटन कारोवारियों से भी अपील की है कि वे पर्यटकों को गुमराह न करें और उन्हें संभावित खतरों से अवगत करवाएं।
आशुतोष गर्ग का कहना है कि अधिक बर्फबारी वाले क्षेत्रों में और जहां सड़कों पर कोहरा जमा है, वहां पर वाहन न चलाएं क्योंकि सड़कों पर फिसलन होने के कारण हादसा होने की आशंका ज्यादा रहती है। साथ ही उपायुक्त ने स्थानीय लोगों तथा सैलानियों से किसी भी आपात की स्थिति में टाॅल फ्री नम्बर 1077 पर सूचित करने को कहा है ताकि आपदा से दौरान तुरंत प्रभावित व्यक्ति की मदद की जा सके।
उपायुक्त ने जिला के सभी एसडीएम व तहसीलदारों को हर समय सतर्क रहने को कहा है। उन्होंने कहा कि मौसम साफ भी होता है तो भी बर्फीले क्षेत्रों की ओर रूख न करें क्योंकि ऐसे क्षेत्रों में तापमान काफी कम रहता है और फिसलन के कारण जान को जोखिम में डालना ठीक नहीं है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वाहनों को पहाड़ों की ओर पार्क न करें। पत्थर अथवा ल्हासे गिरने के कारण वाहन को नुक्सान हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.