सरहद पर डटे जवान परिवारों की चिंता पुलिस पर छोड़ें, शिमला पुलिस करेगी मदद

शिमला।
देश की सरहद पर तैनात सेना और पैरामिल्ट्री के जवान अपने परिवार की समस्या की चिंता न करें। अगर उनको कोई समस्या हो तो वे शिमला पुलिस से इसके लिए संपर्क कर सकते हैं। जवानों को समस्या हल करने का पुलिस पूरी कोशिश करेगी। इसके लिए शिमला पुलिस ने आज आईटीबीपी तारादेवी में आभार योजना शुरु की है। इसके माध्यम से शिमला जिला के जवानों के परिवार को अगर कोई समस्या है तो शिमला पुलिस उसका समाधान करने के लिए काम करेगी। जिससे की जवान सीमा पर बेफिक्र होकर अपनी सेवाएं दे सके।
एसपी शिमला मोहित चावला और डीआईजी आईटीबीपी प्रेम सिंह ने आभार योजना का शुभारंभ किया।
इस मौके पर मोहित चावाला ने कहा कि देश की सरहद पर तैनात सेना और पैरामिल्ट्री के जवानों को घर की चिंता सताती रहती है क्योंकि वे परिवार से काफी दूर रहते हैं। इसी मध्यनजर रखते हुए शिमला पुलिस ने कारगिल दिवस के मौके पर जवानों को ट्रिब्यूट स्वरूप आभार योजना का शुभारंभ किया है। शिमला पुलिस सेना के जवानों की समस्या का हल करने की कोशिश करेगी। इसके लिए व्हाट्सएप नंबर भी जारी किया गया है।
आईटीबीपी के डीआईजी प्रेम सिंह ने एसपी शिमला का इस योजना को शुरू करने के लिए आभार व्यक्त किया और कहा कि इस तरह की योजना पूरे भारत मे शुरू होनी चाहिए ताकि जवान घर परिवार की चिंता से मुक्त होकर सीमा पर तत्परता से सेवा दे सकें।
उन्होंने कहा कि योजना का हर महीने सब डिविजन स्तर आकलन किया जाएगा और 3 महीने बाद जिला स्तर इस योजना का रिव्यु होगा और शिकायतें दूर की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.