किन्नौर में उमड़ी भीड़ देख बोले सीएम, यहां से बाजी एकतरफा होगी

 

अगली बार सांसद खुशाल ठाकुर के साथ फिर आने का किया वादा

‘बर्फबारी से हुए नुकसान की भरपाई के लिए करेंगे हर संभव मदद’

किन्नौर में कांग्रेस नेताओं पर जमकर बरसे सीएम

 

 

रिकांगपिओ

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने किन्नौर के रिकांगपिओ में एक जनसभा की। यहां उन्होंने भाजपा प्रत्याशी खुशाल ठाकुर के लिए वोट मांगे। जनसभा में उमड़े भारी जनसमूह को देख मुख्यमंत्री ने कहा कि इतने लोगों को देखकर लग रहा है कि यहां से बाजी एकतरफा होगी।

 

रिकांगपिओ में बड़ी संख्या में मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आपका इलाका जितना सुंदर है, यहां जीवन भी उतना ही कठिन है। अचानक से हुई बर्फबारी के कारण सेब को काफी नुकसान पहुंचा है। बर्फ के कारण सेब के पेड़ टूट गए। बागवानों को हुए इस नुकसान को मैं अच्छी तरह से समझ सकता हूं। इसकी भरपाई के लिए प्रयत्न किए जाएंगे।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरा घर भी काफी ऊंचाई पर है। मैंने भी खेतों में हल जोतने, सेब तोड़ने और सेब को मंडी तक ले जाने का काम किया है। इसलिए मैं हिमाचल के लोगों और किन्नौर की परिस्थितियों को अच्छी तरह से समझ सकता हूं।

 

मुख्यमंत्री ने कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर किन्नौर के लोगों की तारीफ की। उन्होंने कहा कि कोरोना की पहली डोज लगाने के मामले में हिमाचल देश का अव्वल राज्य बना। अब हिमाचल वैक्सीन की दोनों डोज लगाने में भी देश का प्रथम राज्य बनेगा। लेकिन किन्नौर कोरोना की दूसरी डोज लगवाकर संपूर्ण वैक्सीनेशन वाला हिमाचल का पहला जिला बना है, इसके लिए यहां के लोगों को मैं बधाई देना चाहता हूं।

 

 

कांग्रेस ने अपनी ही पार्टी को लूटा’

मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस 50 साल सत्ता में रही लेकिन उन्होंने कोई काम नहीं किया। उनके कार्यकाल में प्रदेश में केवल 30 वेंटिलेटर और 2 ऑक्सीजन प्लांट थे। आज प्रदेश में करीब 900 वेंटिलेटर और करीब 30 ऑक्सीजन प्लांट हैं।

 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोग कोरोना काल में भी केवल राजनीति करते रहे। सलाहकार बनकर कहते रहे कि ये किजिए, वो कीजिए। लेकिन उन्होंने लोगों की मदद करने की कोशिश कभी नहीं की। हमने बाहरी राज्यों में फंसे हिमाचलियों को उनके घरों तक पहुंचाया। लोगों की जिंदगी बचाने के लिए जो किया जा सकता था वो किया। कांग्रेस के नेताओं ने तो करोड़ों का बिल अपनी पार्टी को भेजकर लूटने का प्रयास किया। सोचिए अगर ये लोग सत्ता में होते तो क्या करते।

 

मुख्यमंत्री ने कांग्रेस के नेताओं को निशाने पर लेते हुए कहा, “इन्होंने तो स्टार प्रचारक भी बाहर से बुलाए। ऐसे स्टार प्रचारक जिनपर देशद्रोह के आरोप लगे हैं। कांग्रेस के नेताओं को जनता की बिल्कुल भी फिक्र नहीं है। आज जब वीरभद्र सिंह जी नहीं रहे तो इनमें प्रदेश का सबसे बड़ा नेता बनने की होड़ लगी हुई है।”

 

मुख्यमंत्री ने अपने भाषण में कोरोना काल में हुए विकास कार्य भी गिनाए। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जब लोगों की बीच जाना संभव नहीं हुआ तो हमने ऑनलाइन तरीके से करीब 4500 करोड़ के शिलान्यास और उद्घाटन किए। आज कांग्रेस के नेता कहते हैं कि जयराम सरकार अपना कोई एक काम गिनवा दे। पता नहीं कांग्रेस की नजर में काम क्या है।

 

 

मुख्यमंत्री ने किन्नौर के लोगों से भाजपा प्रत्याशी ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर के लिए वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि इस बार की जीत वैसी ही होगी, जैसी 2019 में रामस्वरूप शर्मा जी की हुई थी। इस दौरान मुख्यमंत्री ने सितंबर महीने में टले अपने किन्नौर दौरे का भी जिक्र किया।

 

उन्होंने कहा कि उस दिन आचार संहिता नहीं लगती तो यहां कई विकास कार्यों के उद्घाटन और शिलान्यास होते। मुख्यमंत्री ने कहा, “लेकिन मैं वादा करता हूं कि अगली बार जब आऊंगा तो आपके सांसद को भी साथ लाऊंगा। उस दिन यहां जो भी कमी रही है, उसे दूर किया जाएगा।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.