फिलहाल नहीं होंगे मंडी लोकसभा और फतेहपुर विधानसभा उपचुनाव

कोरोना के कारण हिमाचल ने किया था अभी न कराने का आग्रह
शिमला

हिमाचल में फिलहाल लोकसभा और विधानसभा उपचुनाव नहीं करवाए जाएंगे। इसके साथ ही अन्य राज्यों में भी उपचुनाव टाल दिए गए हैं। केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने विभिन्न राज्यों के मुख्य सचिव की आपदा और फेस्टिवल सीजन की दलीलों को देखते हुए‌ यह फैसला लिया है। हिमाचल के मंडी लोकसभा और फतेहपुर की विधानसभा की सीटों को खाली हुए छह महीने का समय पूरा हो रहा है। नियमानुसार केंद्रीय चुनाव आयोग को छह महीने के भीतर उपचुनाव कराने जरूरी थे। मगर हिमाचल ने कोरोना महामारी के चलते इन चुनावों को टालने का आग्रह किया था। वहीं अन्य राज्यों ने भी महामारी और फेस्टिवल सीजन को देखते हुए इन उपचुनावों को अभी न करवाने की दलील दी गई। ऐसे में अब चुनाव आयोग ने स्पष्ट कर दिया है कि वह केवल पश्चिम बंगाल की एक सीट पर उपचुनाव कराएगा और बाकी सीटों के चुनाव टाल दिए गए हैं। मंडी लोकसभा और फतेहपुर विधानसभा के साथ ही जुब्बल-कोटखाई विधानसभा सीट और अर्की विधानसभा सीट पर भी उपचुनाव की संभावना भी नहीं है। जुब्बल-कोटखाई विधानसभा सीट नरेन्द्र बरागटा के निधन और अर्की विधानसभा सीट पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के निधन के बाद खाली पड़ी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.