मुख्यमंत्री ने शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में 13.08 करोड़ रुपये के लोकार्पण किए




मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह तारा देवी के 4.28 करोड़ रुपये की लागत से नवनिर्मित भवन तथा राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय शोघी के 8.80 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित भवन का लोकार्पण किया।
इस अवसर पर शोघी में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने आनंदपुर-शोघी-जलेल-थड़ी-बढ़ई उठाऊ सिंचाई योजना और खटनोलू नाला से समस्त कोट पंचायत के लिए उठाऊ सिंचाई योजना का प्रावधान करने की घोषणा की। उन्होंने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय शोघी में टीजीटी मेडिकल, नॉन मेडिकल और संस्कृत अध्यापकों के पद सृजित करने, विद्यालय की चार दिवारी के लिए 50 लाख रुपये तथा साउंड सिस्टम के लिए 3 लाख रुपये प्रदान करने की घोषणा की।
उन्होंने शोघी में एचपीएसईबी का उपमंडल खोलने की घोषणा भी की।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने अध्यापकों से विद्यार्थियों को केंद्रित दृष्टिकोण के साथ गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने और उनका मार्गदर्शन करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में शिक्षा के क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है। प्रदेश सरकार द्वारा दूरदराज क्षेत्रों में वर्तमान आवश्यकता के आधार पर आधारभूत संरचना विकसित की जा रही है। प्रदेश के छात्रों में योग्यता की कमी नहीं है और उन्हें आगे बढ़ने के लिए मार्गदर्शन के साथ सही अवसर प्रदान किए जाने चाहिए। भाजपा सरकार ने हिमाचल की संस्कृति के अनुरूप प्रदेश को आगे बढ़ाने का प्रयास किया है। सवा चार वर्ष के कार्यकाल के दौरान कोविड-19 के संकट के बावजूद सरकार ने विकास के नए आयाम स्थापित किए हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के यशस्वी नेतृत्व में देश कोविड के संकट काल से बाहर निकल कर प्रगति के पथ पर आगे बढ़ रहा है। उन्होंने प्रदेश सरकार द्वारा कार्यान्वित की जा रही विभिन्न विकासात्मक योजनाओं का विस्तृत ब्यौरा भी दिया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल दिवस के अवसर पर प्रदेश सरकार ने हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में महिला यात्रियों को किराए में 50 प्रतिशत छूट प्रदान करने का निर्णय लिया है। इससे महिलाओं को लगभग 60 करोड़ रुपये के लाभ प्राप्त होंगे। सरकार द्वारा प्रथम जुलाई से सभी विद्युत उपभोक्ताओं को 125 यूनिट तक जीरो बिल की सुविधा प्रदान करने व उनसे कोई विद्युत बिल न लेने का निर्णय भी लिया गया है। उन्होंने कहा कि इस निर्णय से प्रदेश के 11.5 लाख विद्युत उपभोक्ताओं को 250 करोड़ रुपये के लाभ प्रदान किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे सभी परिवारों से पानी का कोई बिल न लेने का भी निर्णय लिया गया है, जिससे प्रदेश के ग्रामीण परिवारों को 30 करोड़ रुपये के वित्तीय लाभ प्रदान होंगे।
इस अवसर पर जय राम ठाकुर ने मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना के तहत स्थापित इकाई का निरीक्षण भी किया।
शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि कोविड-19 के दौरान सरकारी विद्यालयों के अध्यापकों ने सराहनीय कार्य किया है। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति के फलस्वरुप प्रदेश में सरकारी विद्यालयों के अध्यापकों ने सराहनीय कार्य किया है। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति के कार्यान्वन से सरकारी विद्यालयों में शिक्षा और गुणात्मकता सुनिश्चित होगी।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने बिना किसी भेदभाव के प्रदेश के हर विधानसभा क्षेत्र का समान विकास सुनिश्चित किया है। प्रदेश सरकार विश्वास और विकास के साथ प्रगति के पथ पर निरंतर आगे बढ़ रही है। उन्होंने प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं के बारे में बताया।
विधायक विक्रमादित्य सिंह ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया और विभिन्न विकासात्मक कार्यों के लिए उनका आभार व्यक्त किया।
कैलाश फेडरेशन व भाजपा के जिला अध्यक्ष रवि मेहता ने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों का विवरण देते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने राज्य का सर्वागीण विकास सुनिश्चित किया है।
भाजपा नेता डॉ. प्रमोद शर्मा ने शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न विकासात्मक कार्यों के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।
इस अवसर प्रधान ग्राम पंचायत कोट नेहा मेहता ने स्वयं सहायता समूह की ओर से चीड़ की पत्तियों से बना उत्पाद भेंट किया।
विद्यालय की प्रधानाचार्य अमिता गुप्ता ने मुख्यमंत्री और गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया। मंडल अध्यक्ष दिनेश ठाकुर ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया
भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य ईश्वर रोहाल, मंडल अध्यक्ष दिनेश ठाकुर, महामंत्री यशपाल ठाकुर, भाजपा नेता सुनील ठाकुर, उपायुक्त आदित्य नेगी, पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका और गणमान्य लोग इस अवसर पर उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.