तीन दिवसीय प्रथम राज्य स्तरीय ठोडा खेल प्रतियोगिता चौपाल के बागड़ी में शुरू




शहरी विकास, आवास, नगर नियोजन, विधि, संसदीय कार्य एवं सहकारिता मंत्री सुरेश भारद्वाज ने आज तीन दिवसीय प्रथम राज्य स्तरीय ठोडा खेल प्रतियोगिता का शुभारंभ चौपाल विधानसभा क्षेत्र के बागड़ी पंचायत में किया।
उन्होंने कहा कि खेल प्रतियोगिता में प्रदेश के लगभग 50 ठोडा दलों ने भाग लिया है। यह एक प्राचीन खेल है जिसमे पारंपरिक वाद्य यंत्रों एवं शस्त्रों को खेल में प्रयोग में लाया जाता है। प्राचीन काल में मेले, जातर एवं विशु के आयोजन का महत्व सामाजिक मेलजोल था, जिसमें से एक ठोडा प्रतियोगिता भी शामिल है।
आज के समय में प्राचीन परम्पराएं समाप्त होती जा रही है। इसको संजोए रखने के लिए इस प्रकार के आयोजन अत्यंत महत्वपूर्ण है।
उन्होंने कहा कि पूर्व में भी इस प्रकार के आयोजन किए गए थे लेकिन इतनी बड़ी संख्या में ठोडा दलों का शामिल होना एक ऐतिहासिक है। इस प्रतियोगिता में ठोडा प्रतियोगिता तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ-साथ पारंपरिक वाद्य यंत्रों एवं पोशाकों के लिए भी इनाम रखे गए हैं, जिससे यह कार्यक्रम और भी महत्वपूर्ण हो जाता है ताकि पारंपरिक वाद्य यंत्रों के साथ पोशाकों का भी संरक्षण हो सके।
उन्होंने कहा कि इस खेल को राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता दिलाने के लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे ताकि इस खेल का आयोजन राष्ट्रीय स्तर पर भी किया जा सके।
उन्होंने ठोडा संघ को अपनी ऐच्छिक निधि से 2 लाख रुपए देने की भी घोषणा की तथा अन्य मांगों को भी पूरा करने का आश्वासन दिया।
स्थानीय विधायक एवं हिमाचल प्रदेश ठोडा खेल एवं सांस्कृतिक संघ अध्यक्ष बलबीर वर्मा ने कहा की कोरोना महामारी के कारण इस प्रतियोगिता का आयोजन नहीं कर सके थे लेकिन कोरोना महामारी के उपरांत इस प्रकार का आयोजन एक ऐतिहासिक है। उन्होंने कहा की लोगो के मनोरंजन, पारंपरिक खेल संरक्षण तथा रीति रिवाज को संजोए रखने के लिए इस प्रकार के आयोजन बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा की प्रदेश सरकार के कुशल नेतृत्व से आज पूरे प्रदेश के साथ-साथ चौपाल क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास किए जा रहे हैं।
इस अवसर पर जिला महासु अध्यक्ष अजय श्याम, उपमंडलाधिकारी ठियोग सौरभ जस्सल, संघ के महासचिव ओम प्रकाश मेहता, स्थानीय प्रधान निशा, अन्य पदाधिकारीगण एवं अधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.